महाराष्ट्र सरकार की नजर में नेहरू-पटेल नहीं, PM मोदी हैं सबसे बड़े नेता!

मुंबईः महाराष्ट्र सरकार की नजर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे बड़े नेता हैं। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सरकार के शिक्षा विभाग ने 59.42 लाख रुपए की लागत पर पीएम मोदी की करीब 1.5 लाख किताबों की मांग की है। जबकि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और दूसरे ऐतिहासिक पुरुषों पर महज कुछ हजार रुपए ही खर्च किए गए हैं। शिक्षा विभाग ने मोदी की जिन किताबों की मांग की है वो हिंदी, अंग्रेजी के अलावा गुजराती और मराठी भाषा में होंगी।

इन किताबों को जिला परिषद स्कूलों के पुस्तकालय में रखा जाएगा ताकि अपने खाली समय में पहली कक्षा से आठवीं क्लास तक बच्चे इन किताबों को पढ़ सकें। वहीं विपक्ष ने इसकी आलोचना की है। आलोचकों का कहना है कि राज्य सरकार बच्चों के दिल और दिमाग में मोदी की तस्वीर बनाने के लिए ऐसा कर रही है। इन किताबों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शीर्षक के नाम से 24 पन्नों की एक बुकलेट भी शामिल है। इसमें पीएम के शुरुआती दिनों की फुल इमेज है जब वह अपने पिता के साथ चाय बेचते थे।

किताबों में कॉमिक सीरीज भी शामिल
किताबों में ‘चाचा चौधरी पर कॉमिक सीरीज भी मंगवाई गई हैं। इसके अलावा पीएम मोदी की जीवनी भी ऑर्डर की गई है। सूत्रों को मुताबिक इसी माह के आकिर में यह किताबें महाराष्ट्र सरकार को डिलीवर कर दी जाएंगी। बताया जा रहा है कि इन किताबों को खरीदने के लिए सर्व शिक्षा अभियान के तहत उपलब्ध फंड का इस्तेमाल हुआ है। शिक्षा शोधकर्ताओं के मुताबिक सरकार को इतनी किताबों पर फंड व्यर्थ करने की बजाए बच्चों की शिक्षा व्यवस्था पर खर्च करना चाहिए ताकि बच्चें बढ़िया शिक्षा पा सकें।

इन किताबों का भी हुआ ऑर्डर
छत्रपति शिवाजी महाराज पर 3,40,982 किताबें मंगाई गई हैं। दिवगंत पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम पर (3,21,328) और छत्रपति शाहू महाराज पर (1,93,972) किताबों के ऑर्डर दिए गए हैं। नेहरू की 1,635 और इंदिरा गांधी पर 2,675 किताबें मंगवाई गई है। लेकिन सरदार पटेल पर एक भी किताब ऑर्डर नहीं की गई। महात्मा गांधी पर 4,343, भीमराव आंबेडकर पर 79, 388, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पर 79, 388 और  समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले पर 76,713 किताबें मंगवाई गई हैं।

पंजाब केसरी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *