डिस्प्ले बोर्ड में अंकित होंगे शव-वाहन चालकों के मोबाइल नम्बर

Date posted: July 13, 2017    10:38 AM

लखनऊ: प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रत्येक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा सभी चिकित्सालयों के डिस्प्ले बोर्ड में शव-वाहन की उपलब्धता की स्थिति तथा शव वाहन का नम्बर व वाहन चालक का मोबाइल नम्बर डिस्प्ले बोर्ड में अंकित करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षकों को दिए हैं। इसके बारे में और पढ़े..

पल्स पोलियो डे की तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी ने की बैठक

Date posted: June 30, 2017    2:00 PM

फैजाबाद:  जिलाधिकारी संतोष कुमार राय ने बताया कि 2011 के बाद पूरे भारत में पोलियों के एक भी केस नही मिले है। जबकि पड़ोसी देशों में कुछ पोलियो के केस पाये गये है, ऐतिहातन पल्स पोलियो के वायरस पुनः बच्चों को ग्रसित न कर सके इसके लिये 2 जुलाई को पूरे देश के साथ जनपद में भी बूथ लगाकर दवा पिलाई जायेगी। 2 जुलाई के बाद घर-घर जाकर बच्चों को पोलियों की दवा पिलाई जायेगी। उन्होनें आगे बताया कि जनपद मे 0 से 5 वर्ष के 3 लाख 45 हजार 429 बच्चों को पोलियों खुराक से अच्छादित करना है जिसमेें से अर्बन क्षेत्र में 31094 बच्चे है।  इसके बारे में और पढ़े..

38 जिलों में 82 लाख से अधिक बच्चों को जेे0ई0 टीके लगाए गए: स्वास्थ्य मंत्री

Date posted: June 13, 2017    6:41 PM

 लखनऊ:    प्रदेश केे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के दृढ़ संकल्प को चरितार्थ करने की दिशा में राज्य सरकार सतत् प्रयत्नशील है। मस्तिष्क ज्वर से 01 से 15 वर्ष तक के बच्चे प्रभावित होते हैं। इस रोग से बच्चों की सुुरक्षा करना सभी का दायित्व व नैतिक कर्तव्य है। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्य नाथ की प्रेरणा से इस विशेष टीकाकरण अभियान को प्रदेश के प्रभावित 38 जनपदों में 25 मई 2017 से चलाया जा रहा है। े अभियान की सफलता के प्रति कटिबद्ध सरकार द्वारा जनपदों में प्रभारी मंत्रियों/सांसदों ने स्थानीय स्तर पर अपनी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित की। इसके बारे में और पढ़े..

देश भर में दवा की दुकानें मंगल को नहीं खुलेंगी, ऑनलाइन बिक्री का विरोध

Date posted: May 29, 2017    11:17 PM

नई दिल्ली:  मंगलवार को दवाओं की दुकानें बंद होने से मरीज-परिजनों को परेशानी हो सकती है क्यूंकि देश भर की सभी दवा दुकानें बंद रहेंगी। देश के लगभग 9 लाख केमिस्ट दवाओं की ऑनलाइन बिक्री के खिलाफ हडताल पर रहेंगे। इसी क्रम में दिल्ली में आल इंडिया ऑर्गनाइजेशन आफ केमिस्ट एन्ड ड्रगिस्ट मंगलवार को जंतर-मंतर पर धरना भी देगा। केमिस्टों का मानना है कि ये सब रिटेल कारोबार को खत्म करने की कोशिश है। दवाओं की ऑनलाइन बिक्री पब्लिक हेल्थ के लिए भी गंभीर खतरा है। इसके बारे में और पढ़े..

व्यवस्था को चुस्तदुरूस्त बनाये रखने की जिम्मेदारी चिकित्सा विश्वविद्यालय की-टण्डन 

Date posted: May 19, 2017    10:05 PM

लखनऊ: दिनांक 17 मई , दूर-दराज से अपना उपचार करन के लिए आन वाले मरीजों का बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय कटिबद्ध है तो वहीं उसक सहयाग एवं मरीजों का तपती गर्मी में ठंडे पानी से प्यास बुझाने के लिए और मरीजों का वार्डो तक ले जाने के लिए व्हीलचेयर एवं स्ट्रेचर उपलब्ध कराने का संकल्प धनवंतरी केन्द्र ने आज पूरा किया है। यह उद्गार आज प्रदेश के काबीना मंत्री श्री ब्रजेश पाठक किंग जार्ज मेडिकल कालेज के दंत संकाय में रैन बसेरे के उद्घाटन के अवसर पर व्यक्त कर रहे थ।
श्री पाठक ने कहा  कि पूर्व सांसद श्री लालजी टण्डन के दिमाग में पूरे प्रदेश के साथ-साथ लखनऊ को कैसे विकसित किया जाए, इसकी चिन्ता हमेशा रहती है। उन्होने कहा कि पूर्व सांसद का स्नेह चिकित्सा विश्वविद्यालय पर हमेशा बना रहता है।
इस अवसर पर अयोजित दंत संकाय पुराने भवन के पास मरीजों के तीमारदारों के ठहरने के लिए एक रैन बसेरे के उद्घाटन अवसर पर पूर्व सांसद श्री लालजी टण्डन ने कहा कि इसकी व्यवस्था को चुस्तदुरूस्त बनाये रखने की जिम्मेदारी चिकित्सा विश्वविद्यालय की है और उन्होने आशा व्यक्त की चिकित्सा विश्वविद्यालय इस दायित्व को भलीभांति निभायेगा।

इसके बारे में और पढ़े..

नर्स का कार्य मानवीयता से जुड़ा सेवाकार्य है- स्वाती सिंह

Date posted: May 12, 2017    7:03 PM

लखनऊ: 12 मई, राज्यमंत्री स्वाती सिंह ने आज नर्सिंग दिवस पर नर्सिंग के छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि नर्स के कार्य में मानवीयता की भावना होना जरूरी है। सेवा और मरीज को स्वस्थ देखने कामना रखना नर्सिंग षिक्षा का मूल तत्व है। सेवाभाव से की गयी परिचर्या किसी भी मरीज को षीघ्र स्वस्थ कर देती है।
श्रीमती स्वाती सिंह ने कहा कि नर्सिंग मरीज की रात-दिन सेवा से जुड़ा कार्य है। गम्भीर स्वास्थ्य समस्या के मरीजों का जीवन कभी-कभी चिकित्सक के कार्य के उपरान्त नर्सों की बेहतर देखभाल पर ही आकर टिक जाता है, इसीलिए नर्सों को बेहद आत्मीयता से सिस्टर कहकर बुलाया जाता है। उन्होंने कहा कि गाॅंवों के दूरस्थ क्षेत्रों में नर्सिंग कार्यों से जुड़े लोगों पर चिकित्सा सम्बन्धी कार्यों की बड़ी जिम्मेदारी होती है। ऐसे में नर्सिंग प्रषिक्षण देना और लेना दोनों ही महत्वपूर्ण है। नर्सों में सेवा की भावना प्रषिक्षण के समय ही प्रमुखता से पैदा की जानी चाहिए।

इसके बारे में और पढ़े..

गर्मी के मौसम में शरीर के भीतर जल का अंश कम हो जाता है- डॉ० हेमांग राय

Date posted: May 11, 2017    11:54 AM

गर्मी के मौसम में शरीर का जल का अंश कम हो जाता है, वातावरण की गर्मी व धूप से वह तपने लगता है। ऐसे में प्यास बढ़ जाती है, बार-बार पानी पीने से भी प्यास शांत नहीं होती, ऐसे में निम्नलिखित प्रयोग करें-पानी में शहद मिलाकर कुल्ला करने या लौंग को मुँह में रखकर चूसने से बार-बार लगने वाली प्यास शांत होती है।अनन्नास का ऊपरी छिलका और भीतरी कठोर भाग निकाल कर उसके छोटे-छोटे टुकड़े कर, इन टुकड़ों को पानी में पकाकर नरम बनाएँ और फिर चीनी की चाशनी बनकर उसमें डाल दें। इस मुरब्बे का सेवन करने से प्यास बुझती है तथा शरीर की जलन शांत होती है, इससे हृदय को बल मिलता है।गाय के दूध से बना दही 125 ग्राम, शकर 60 ग्राम, घी 5 ग्राम, शहद 3 ग्राम व काली मिर्च-इलायची चूर्ण 5-5 ग्राम लें। दही को अच्छी तरह मलकर उसमें अन्य पदार्थों को मिलाएँ और किसी स्टील या कलई वाले बर्तन में रख दें। उसमें से थोड़ा-थोड़ा दही सेवन करने से बार-बार लगने वाली प्यास शांत होती है।जौ के भुने सत्तू को पानी में घोलकर, उसमें थोड़ा सा घी मिलाकर पतला-पतला पीने से भी प्यास शांत होती है।चावल के मांड में शहद मिलाकर पीने से भी तृष्णा रोग में आराम मिलता है।
Dr.Hemang

एसिडिटी की समस्‍या है तो जलजीरा पियें, जब तक कि एसिडिटी कम ना हो जाए-डाo हेमांग राय

Date posted: May 11, 2017    11:45 AM

जल जीरा पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ
1) जल जीरा घटाए वजन :-इसे दिन में दो बार पियें। इसे पीने से भूख कम लगती है जिससे आप अति से ज्‍यादा भोजन खाने से बच जाएंगे।
2) एसिडिटी दूर करे :-अगर आपको एसिडिटी की समस्‍या है तो जलजीरा को धीरे धीरे पियें, जब तक कि एसिडिटी कम ना हो जाए।
3) कब्‍ज दूर करे :-यह कब्‍ज की समस्‍या को दूर करता है। इसे दिन में दो बार पियें।
4) गैस दूर करे :-इसे पीने से गैस दूर होती है। इसे तब तक धीरे धीरे पियें जब तक कि पेट की गैस पूरी तरह ना निकल जाए।
5) मतली रोके :-यह उन गर्भवती महिलाओं के लिये अच्‍छा है, जिन्‍हें सुबह के समय उल्‍टी महसूस होती है। उन्‍हें इसका सेवन जरुर करना चाहिये।
6) पानी की कमी ना होने दे :-यह शरीर में गर्मियों के मौसम में पानी की कमी नहीं होने देता।
7) मासिक धर्म के दर्द को रोके :-लड़कियों में मासिक धर्म के समय तेज दर्द को होने से यह रोकता है। इसे दिन में कई बार पीने से पीड़ा से आराम मिलता है।

समाजसेवी एवं स्कूली बच्चों ने शुरू किआ ‘स्वच्छ जल आंदोलन’

Date posted: May 9, 2017    12:36 AM

नॉएडा : शहर के समाजसेवी श्री रंजन तोमर एवं ग्राम रोहिल्लापुर प्राथमिक विद्यालय के छात्रों ने गाँव में बीते कई महीनो से आ रहे गंदे पानी के खिलाफ जल आंदोलन छेड़ा , श्री तोमर ने संवाददाताओं को बताया के ग्राम रोहिल्लापुर सेक्टर 132  में बीते कई महीनों से गन्दा पानी सप्लाई आ रहा है जिससे वहां के ग्राम वासियों में रोष व्याप्त है , गन्दा पानी पीने से लगातार बड़े और बच्चे बीमार हो रहे हैं , उन्होंने नॉएडा प्राधिकरण पर आरोप लगाया है के बार बार शिकायत करने पर भी कोई कार्यवाही नहीं की गई है , यहाँ तक की पास में ही स्थित जेपी अस्पताल को गाँव के पानी की पाइपलाइन से पानी दे दिया गया है जिससे जल उचित मात्रा में  यहाँ पहुंच भी नहीं पाता , जिससे गंदे पानी और काम पानी की दोनों परेशानियों से गांववासी परेशान हैं !  प्रदर्शन के दौरान बच्चों ने भिन्न तरह के बैनर पकड़ कर विरोध किआ , जैसे ‘नॉएडा अथॉरिटी नींद से जागो ‘ ‘साफ़ पानी हमारा मौलिक अधिकार ,गन्दा पानी बिमारियों को दावत , मोदी जी ,योगी जी हमारी भी सुनो

संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्यों में स्वच्छ जल एक बुनियादी मानवाधिकार , नॉएडा अथॉरिटी तुमसे न हो पायेगा ,पंचायत व्यवस्था वापस दो

गाँव के पूर्व प्रधान श्री अजीत सिंह ‘बजरंगी’ ने कहा के कई बार शिकायत की गई है पर प्राधिकरण के कान पर जूं तक नहीं रेंगी , ऊपर से पानी की सप्लाई का प्रेशर भी कम हो गया , उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस बारे में संज्ञान लेने की गुज़ारिश की !  इसके बारे में और पढ़े..

लखनऊ के निराला नगर में सम्पन्न हुई आरोग्य भारती की क्षेत्रीय बैठक

Date posted: May 8, 2017    11:54 AM

लखनऊ : वर्तमान समय में रोगों की चिकित्सा के साथ-साथ रोगी की स्वास्थ्य रक्षा करना भी महत्वपूर्ण कार्य है। स्वास्थ्य सभी की आवश्यकता है तो भी छोटे-छोटे प्रभावी प्रकल्प स्वास्थ्य रक्षा के अच्छे प्रेरणा केन्द्र बनते हैं। यही कार्य सामाजिक स्तर पर अगर किसी एक नगर में विकसित हो जाये तो वहाॅ पर एक अच्छा स्वास्थ्यवर्धक वायुमंडल चर्चा का विषय बन जाता है। इसी भाव को ध्यान में रख कर आयोग्य भारती आगामी छः माह में सुनियोजित प्रयास करते हुए पूरे देश भर में विशेषकर उत्तर प्रदेश में कार्य की योजना बना रही है। यह विचार आरोग्य भारती के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा0 बी0एन0 सिंह ने व्यक्त किये।
आरोग्य भारती के तत्वाधान में माधव सभागार सरस्वती कुंज, निराला नगर में सम्पन्न हुई क्षेत्रीय बैठक में 35 जिलों के कार्यकर्ताओं के मध्य योजना बनायी गयी। वर्तमान में 23 जिलों में सूर्य नमस्कार के नियमित प्रकल्प चल रहे हैं। वहीं मधुमेह योग प्रबन्धन का कार्य 20 जिलों में, 19 जिलों के एक-एक ग्राम को स्वस्थ बनाने का कार्य चला रहा है। विगत छः माह में 40 स्थानों पर चिकित्सक सम्मलेन हुए जिसमें 2153 चिकित्सकों ने सहभागिता दी और 35 जिलों में स्वास्थ्य प्रबोधन के कार्यक्रम सम्पन्न हुए। बैठक में विगत 6 माह में सम्पन्न कार्यक्रमों के वृत एवं बांदा, कानपुर और काशी के विशेष वृत्त के साथ-साथ आगामी 6 माह के लिए भी योजना बनाई गई। कार्य को व्यवस्थित करने के लिए संगठनात्मक सत्र में सभी जिलों में मासिक बैठक करके व्यवस्थित करने का संकल्प लिया गया।

इसके बारे में और पढ़े..

« Older Entries